नियामक निकायों के साथ समन्‍वय-घरेलू

ढांचा निर्माण/सुधार/सामंजस्‍य स्‍थापित करना/घरेलू खाद्य विनियमनों, उत्‍पाद विनिर्देशों, पैकजिंग तथा लेबलिंग आवश्‍यकताओं इत्‍यादि के लिए एफएसएसएआई/ बीआईएस/भारत सरकार को विज्ञान पर आधारित सुझाव उपलब्‍ध कराता है ।

भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई)

निम्‍नलिखित क्षेत्रों में एफएसएसएआई के साथ विचार-विमर्श किया जाता है:

  1. घरेलू मानकों तथा विनियमनों के ढांचा निर्माण पर सुझाव उपलब्‍ध कराना 
  2. कोडेक्‍स या अन्‍य अंतर्राष्‍ट्रीय विनियमनों के साथ घरेलू खाद्य विनियमनों का  सामंजस्‍य स्‍थापित करने के लिए इनपुट उपलब्‍ध कराना 
  3. नॉलेज शेयरिंग प्‍लेटफार्म - एफएसकेएएन (खाद्य संरक्षा ज्ञान एकीकरण नेटवर्क) पर कार्य करना 
  4. मानक मसौदा अधिसूचनाओं तथा सूचनाओं की समीक्षा करना

http://www.fssai.gov.in/home

भारतीय मानक ब्‍यूरो (बीआईएस)

दूध एवं दूध पदार्थों से संबद्ध मानको, विनिर्देशों, फार्म स्‍तरीय चिलिंग, प्रोसेसिंग, स्‍वच्‍छता एवं सफाई से संबंधित आवश्‍यकताओं इत्‍यादि का निर्धार तथा उन्‍हें उन्‍नत बनाने में बीआईएस के साथ काम करता है । यह ग्रुप खाद्य तथा डेरी कमिटीज (एफएडी 19, एफएडी 15) के उत्‍पाद मानकों, उपकरण प्रक्रिया मानकों, खाद्य सुरक्षा स्‍वच्‍छता प्रणाली प्रबंधन इत्‍यादि के निर्धारण एवं समीक्षा में सक्रिय रूप से शामिल है ।

http://www.bis.gov.in

निर्यात निरीक्षण परिषद (ईआईसी)

दूध एवं दूध उत्‍पादों के निर्यात लाईसेंस के निर्यात/नवीनीकरण के लिए ओडीट एवं प्रमाणन हेतु पैनलबद्ध आमंत्रित व्‍यक्तियों के रूप में ईआईसी ओडीट में प्रतिभागिता करता है ।

http://www.eicindia.gov.in